शांति पाठ | Shanti path in hindi

Shanti path



ॐ द्यौ: शान्तिरन्तरिक्षँ शान्ति:
पृथिवी शान्तिराप: शान्तिरोषधय: शान्ति:।
वनस्पतय: शान्तिर्विश्वेदेवा: शान्तिर्ब्रह्म शान्ति:
सर्वँ शान्ति:, शान्तिरेव शान्ति: सा मा शान्तिरेधि ॥
ॐ शान्ति: शान्ति: शान्ति: ॥

Shanti path lyrics

शांति पाठ को यजुर्वेद से लिया गया है शांति पाठ का हिंदू धर्म में विशेष महत्व है हिंदू संप्रदाय के लोग अपने सभी धार्मिक संस्कार यज्ञ और कार्यों के आरंभ और अंत में शांति पाठ के मंत्रों का उच्चारण किया जाता है। शांति पाठ के द्वारा भगवान से इस संपूर्ण जगत में शांति के लिए प्रार्थना की गई है शांति पाठ के द्वारा भगवान से इस संसार में उपस्थित सभी तत्वों से शांति की कामना की गई है जिससे के ये सभी चीजें संपूर्ण जगत में रहने वाले जीव धारियों के लिए शांति स्थापित कर सकें।

ये सारे द्युतिमान पिंड या तत्व जो इस गगन में भ्रमण करते हैं, इन से हमें शांति मिले ।
प्रभु हम यही विनय करते हैं॥
अंतरिक्ष  हमें शांति प्रदान करे।
इस पृथिवी पर हम शांति प्राप्त करें।
जल से हमको शांति मिले
प्रभु ओषधियाँ  हमको शांति दें॥
वनस्पति सब मानव के लिए सुखदायक हों ।
देव गणों की कृपा हम पर सदा बनी रहे।।
प्रभु शुभ सुख शांति प्रदायक हों ॥
अखिल विश्व में व्याप्त ब्रह्म भी हमको सदा शांति ही दे।
चारों ओर शांति ही शांति हो।
शांति शांति ही शांति मिले। प्रभु सारे जीव शांति पाएं।
भौतिक दुःख से छूट जाएं। सब प्राणिमात्र सुख को प्राप्त करें॥
दैविक दुःख का शमन करो। प्रभु दैहिक शांति प्रदान करो।
सबका मंगल हो ,सबका शुभ हो, शांति शांति हो शांतिः शांति ॥

शांति पाठ के लाभ - शांति पाठ के द्वारा हम ईश्वरीय शक्तियों से इस संसार में शांति स्थापित करने के लिए विनती करते हैं। शांति पाठ करने से मन बहुत शांत रहता है। इसके साथ साथ भगवान हमारी दुखों से रक्षा करते हैं। और इस संसार में व्याप्त सभी चीजें हमारे लिए कल्याणकारी हो जाती हैं। हालांकि हिंदू धर्म में पंडित किसी धर्म संस्कार से पहले और बाद में शांति पाठ का उच्चारण करते हैं, लेकिन यदि हम चाहें तो सुबह सुबह शांति पाठ के द्वारा भगवान से अपने लिए शांति की याचना कर सकते हैं । मंत्रों में बहुत शक्ति होती है और जब भी हम किसी मंत्र का जाप करते हैं तो मंत्रों के द्वारा उत्पन्न होने वाले स्पंदन से एक ऊर्जा का निर्माण होता है, जो ईश्वरीय शक्तियों तक हमारे संदेश को पहुंचाता है।

Post a Comment

Previous Post Next Post
loading...